बीएचयू – मधुर मनोहर, अतीव सुंदर (कविता)

bhu4bhu2

यह ज्ञानपथ, यह प्रेमपथ,

यही कर्मपथ, कर्तव्यपथ,

महामना के स्वेद से

सिंचित हुआ जो धर्मरथ,

गुरु त्याग के मानक जहां,

शिष्य लें समर्पण की शपथ ।6।

कृष्णचूड़ा की लहू-लालिमा में

आल्हादित,उन्मादित यह विजयपथ,

काशी की अनुपम धरोहर का

यह स्वर्णिम चित्र है उद्धृत,

बाबा विश्वनाथ की असीम अनुकंपा से

सदैव उल्लासित यह पुण्यपथ।12।

bhu

bhu3

(चित्र व्हाटसप पर प्राप्त, विश्व-विद्यालय और उससे जुड़ी स्मृतियाँ मेरी अपनी इन पंक्तियों की तरह )

#BHU #lanka #banaras #kashi #बीएचयू

#बनारस  #काशी #ITBHU

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s